• जिला में शांतिपूर्ण माहौल में मना ईद-उल-अजहा का त्यौहार
  • भ्रमणशील रहे जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक कुशीनगर
  • मातहतों से पल-पल की जानकारियां लेते रहे एसपी कुशीनगर

अपराध संवाददाता

कुशीनगर । जनपद में मुस्लिम समुदाय द्वारा पूर्ण शांति व्यवस्था से मनाई गई ईद-उल-अज़हा (कुर्बानी) का त्योहार ,मुस्लिम समुदाय ने घर में ही पढ़ी नमाज तथा लाक डाउन का पूरा पालन करने के साथ ही सोशल डिस्टेंस का भी ख्याल रखा। वही जनपद के संवेदनशील क्षेत्रो में भ्रमणशील रहे जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक कुशीनगर मातहतों से जानकारियां हासिल करते रहे।

कुर्बानी का त्योहार मुस्लिम समुदाय के लिए एक विशेष त्योहार माना जाता है इस त्योहार में मुस्लिमों द्वारा ईद की भांति एक दूसरे से मिल कर मुबारकबाद देना तथा सेवई खाना भी एक परंपरागत तरीका माना जाता है इसके साथ ही इस त्यौहार को मुस्लिम ग्रंथों के हिसाब से बकरे की कुर्बानियां भी दी जाती है जो कि इस त्यौहार का एक विशेष हिस्सा है। कुर्बानी के त्योहार के साथ ही हिन्दू धर्म के पवित्र माह सावन के मद्देनजर रखते हुए आए दिन जनपद के हर थाना में धर्म गुरुओं की बैठक कराई गई थी । वही खुद जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने पुलिस लाइंस सभागर पड़रौना में जनपद के कोने कोने से धर्म गुरुओं के बुलाकर एक दूजे से जानकारियां हासिल करते हुये,अपना दिशा निर्देश दिया था। *वही पुलिस अधीक्षक कुशीनगर विनोद कुमार मिश्र द्वारा अपने पुलिस बल के साथ प्रमुख कस्बो में पैदल गस्त के साथ ही मनबढ़ो पर भी विशेष ध्यान रखते हुए सतर्कता रखा गया था।* जिसका फल स्वरुप स्वरूप जनपद के थाना क्षेत्रो में पूर्ण शांति व्यवस्था से कुर्बानी का त्यौहार संपन्न हुआ।

अधिकारी द्वय द्वारा कुर्बानी के मौके पर जनपदवासियों को मुबारकबाद देने के साथ ही आने वाले तीन अगस्त को  “भाई-बहन” का पवित्र त्यौहार रक्षा बंधन पर भी शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here