महराजगंज | भारत के केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के निर्देश पर डायरेक्टर जनरल ऑफ फॉरेन ट्रेड ने ऐसा फैसला लिया है कि, पड़ोसी देश अब प्याज के लिए आंसू बहाएंगे। दरअसल, देश से बाहर प्याज के निर्यात को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित कर दिया गया है। जिसके चलते भारत से नेपाल प्याज भेजने पर भी रोक लग गई है। उत्तर प्रदेश के नेपाल से सटे जिलों से होते हुए प्याज से भरे ट्रक नेपाल जा रहे थे, जिन्हें सोनौली सीमा पर आगे बढ़ने से रोक लिया गया।

अब नेपाल नहीं भेजा जाएगा भारतीय प्याज

न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, नेपाल जा रहे ट्रकों को सोनौली कस्टम अधिकारियों ने रोका। उनका कहना था कि, सिर्फ नेपाल ही नहीं, अपितु किसी भी देश को अभी प्याज नहीं पहुंचने दिए जाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि, प्याज के बढ़ते दाम को देखते हुए भारत सरकार ने नेपाल में प्याज भेजने पर प्रतिबंध लगा दिया है। तो प्याज लदे ट्रक जो सीमा पर पहुंच गए हैं, उन्हें भी कस्टम विभाग द्वारा वापस कर दिया गया।