कुशीनगर। देवरिया के गौरीबाजार क्षेत्र में सोमवार की देर रात सड़क हादसे की बुरी खबर सामने आयी है. दरअसल कुशीनगर से तिलक लेकरआए बोलेरो और बस के बीच भीषण टक्‍कर हो गयी है. इस सड़क हादसे में छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई है. जबकि आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए है। हादसा बस और बोलेरो की आमने-सामने टक्कर से हुआ।

मिली जानकारी के अनुसार, बस गोरखपुर से यात्रियों को लेकर आ रही थी, जबकि बोलेरो में कुशीनगर से तिलक लेकरआए लोग बैठे थे। गोरखपुर की तरफ से तेज गति से आ रही बस से बोलेरो की आमने-सामने भिड़ंत हो गई। बोलेरो और बस के टक्कर के बाद चीख-पुकार से घटनास्थल दहल उठा। आनन-फानन में घायलों को सीएचसी गौरीबाजार पहुंचाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद सभी को देवरिया जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। मृतकों में पांच बोलेरो सवार और एक बस यात्री शामिल है। वहीं, घटना की सूचना मिलने के बाद जिला प्रशासन के अफसर मौके पर पहुंच गए हैं. फिलहाल बोलेरो और बस को काटने के लिए जिला प्रशासन ने गैस कटर मशीन को मंगवाई है, ताकि लोगों को जल्‍दी बाहर निकाला जा सके.

कुशीनगर जिले के कसया थाना क्षेत्र के कोहड़ा गांव के रविंद्र तिवारी की बेटी की तिलक रुद्रपुर के रैश्री गांव में इंद्रदेव दूबे के घर आई थी। सोमवार की रात तिलक समारोह के बाद बोलेरो से सभी कुशीनगर लौट रहे थे। रुद्रपुर-गौरीबाजार मार्ग पर इंदूपुर काली मंदिर के सामने गोरखपुर की तरफ से तेज गति से आ रही बस से बोलेरो की आमने-सामने भिड़ंत हो गई। टक्कर में बोलेरो के परखच्चे उड़ गए। टक्कर के बाद बस भी पलट गई। इस हादसे में बोलेरो में सवार पांच लोगों के अलावा बस में सवार एक यात्री की भी दब कर मौत हो गई है। हादसे में पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक ने जिला अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ा। हादसे में आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। आधा दर्जन घायलों में दो व्यक्तियों की हालत गंभीर बताई जाती है। सभी का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने जताया शोक: वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने यूपी के देवरिया में सड़क हादसे में जान गंवाने वालों को लेकर गहरा शोक व्यक्त किया है. साथ ही उन्‍होंने जिला प्रशासन को दुर्घटना में घायल लोगों का समुचित उपचार कराने का आदेश दिया है. इसके अलावा सीएम ने मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है.