पालघर। कांग्रेस के निर्विवाद वरिष्ठ नेता व डहाणू लोकसभा क्षेत्र से पांच बार पूर्व में सांसद रहे गांधी घराने के प्रिय दामोदर (दामू) शिंगड़ा का आज वसई के कार्डिनल ग्रेसस हास्पिटल में शाम को देहांत हो गया। वे 67 वर्ष के थें। उनके निधन से जिले में कांग्रेसियों में गहरा क्षोभ व्याप्त.है।
बताया जा रहा है कि वे कोरोना से संक्रमित थें। जिसके बाद उनका ईलाज अस्पताल में चल रहा था।लेकिन चिकित्सकों के काफी प्रयास के बावजूद उन्हें बचाया नही जा सका। उनके परिवार में पत्नी समेत दो सुपुत्र, दो बच्चियां है।


जानकारी मिली है कि स्व.दामोदर (दामू)शिंगड़ा सांसद के उम्मीदवार के रुप में नौ बार कांग्रेस से चुनाव लड़े और पांच बार जीतकर लोकसभा में डहाणू क्षेत्र का बखूबी प्रतिनिधित्व भी किया। वे पहली बार सन्1980 में मात्र 25 वर्ष की अवस्था में डहाणू से लोकसभा सांसद बने। उनकी कांग्रेस कमेटी में गांधी परिवार से काफी नजदीकी रिश्ता रहा है। जानकार बता रहे कि स्व.इंदिरा गांधी लिटिल सांसद संबोधित करके अक्सर बुलाया करती थीं। वे कांग्रेस कमेटी के ठाणे जिलाध्यक्ष पद को शोभायमान किया हुआ है।

     स्व.दामोदर शिंगड़ा के निधन पर कांग्रेस कमेटी पालघर के जिलाध्यक्ष दिवाकर पाटिल,जिला उपाध्यक्ष अरविंद सिंह क्षत्रिय,बच्चा ठाकुर, रणवीर शर्मा,शोभनाथ त्रिपाठी, रामप्रकाश निराला, रामनरेश यादव,सिंकंदर शेख,मनोहर दांडेकर, मनीष गालोरे,संगीता डोंडे ईत्यादि अनेकानेक लोगों ने शोक जताया है।