खड्डा: नदी पार बसे दर्जनों गांवो के बिजली समस्या पर यूपी व बिहार के अधिकारियों की विधायक संग हुई बैठक
  • नदी पार बसे दर्जनों गांवों की 15 से 20 हजार आवादी बिजली की समस्या से बर्षों से है प्रभावित
  • विधायक जटाशंकर त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री सहित शासन के उच्चाधिकारियों के संज्ञान में लाया था मामला
    सोमवार को जिलाधिकारी के निर्देश पर बाल्मिकी टाइगर रिजर्व की एसीएफ, एसडीएम खड्डा सहित वन व बिजली
  • विभाग के अधिकारियों सहित विधायक की अहम बैठक

खड्डा/कुशीनगर (न्यूज अड्डा)। नदी पार बसे गांवों में बिजली समस्या को देखते हुए विधायक जटाशंकर त्रिपाठी के मुख्यमंत्री से शिकायत के बाद शासन के निर्देश के क्रम में जिलाधिकारी ने टीम गठित कर खड्डा इलाके के नदी पार बसे गांवों में बिजली ब्यवस्था संचालित करने व बिहार वन सेंचुरी द्वारा अवरोध को दूर करने के लिए सोमवार को विधायक, एसडीएम, अधीक्षण अभियन्ता, अधिशासी अभियन्ता सहित रेंजर ने बिजली सप्लाई में आ रही अड़चनों को दूर करने के लिए बाल्मीकी वन सेंचुरी के एसीएफ के साथ मदनपुर विश्रामालय में बैठक हुई। बैठक में बिहार वन सेंचुरी के इलाकों को सर्वेक्षण करा बिजली पोल लगवाकर सप्लाई बहाल करने की सहमति बनी।
बताते चलें कि खड्डा के नदी पार बसे आधा दर्जन गांवों सहित महराजगंज के कुछ गांवो में नदी के कटान से पोल कटकर नदी में बिलीन व बह जाने से लगभग बर्षों से 15 से 20 हजार की रेताक्षेत्र की आवादी अंधेरे में जीवन यापन कर रही है। उनकी पीड़ा को देखते हुए बिधायक जटाशंकर त्रिपाठी ने पहल कर बरसात के पूर्व पोल व तार लगाने का आदेश करा दिया। लगभग 500 मीटर के वनक्षेत्र के किनारे के एरिया में पोल लगने का काम होने पर बाल्मीकी टाईगर रिजर्व के अधिकारियों ने वन सेंचुरी के अन्तर्गत का क्षेत्र बता काम रोक दिया था। विधायक जटाशंकर त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री के संज्ञान में पूरा मामला उठाया तो शासन के निर्देश पर यूपी व बिहार के अधिकारियों व वन विभाग के जिम्मेदार लोगों की उपस्थिति में बैठक कर समाधान की रणनीति तैयार हुई। विधायक ने लगभग 500 मीटर एरिया में अण्डर ग्राउंड केविल बिछाकर बिजली बहाल कराने की शर्त रखी। एसडीएम अरविंद कुमार ने भी विहार के डीएफओ को पत्र लिखकर उक्त क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण कर जमीन चिन्हित कर समाधान की बात की थी। सोमवार को हुई बैठक में बिहार की एसीएफ अमिता राज ने कहा कि इको सेंचुरी जोन के एरिया को गुगल मैप या सर्वेक्षण करा दोनों प्रदेशो के अमिन व राजस्वकर्मी से सीमा निर्धारण कर समस्या को दूर करा दिया जाएगा। जो भी जानकारी व समस्या आई है, उसे उच्चाधिकारियों के संज्ञान में लाया जाएगा। विधायक जटाशंकर त्रिपाठी ने बताया कि हमने बिहार प्रदेश के डीएफओ सहित विभाग को आनलाइन आवेदन प्रेषित किया है लेकिन अब तक उसका कोई समाधान नहीं हुआ। उन्होंने बिहार सरकार के वन मंत्रालय से जनहित के इस मुद्दे पर त्वरित निराकरण की बात रखते हुए अधिकारियों से तत्काल समाधान की बात कही। बैठक उपरांत सभी अधिकारियों ने बताया कि शीघ्र ही स्थलीय निरीक्षण कर समस्या को सुलझाया जाएगा। इस अवसर पर अधीक्षण अभियंता राकेश गुप्ता, अधिशासी अभियंता, सीओ खड्डा शिवाजी सिंह, एस एच ओ खड्डा आर.के यादव, रेंजर बीके यादव, जेई अमन कुमार, कानूनगो पीसी गुप्ता, राजस्वकर्मी बृजनारायण सिंह, धीरज शुक्ला, पवन वर्मा सहित तमाम अधिकारी आदि मौजूद रहे।

यहाँ देखे वीडियो!

Sanjay Pandey

तहसील प्रभारी खड्डा, कुशीनगर उत्तर प्रदेश