• दिव्यांगजन शादी-विवाह प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत आवेदन 31 मई तक
  • उक्त योजना अंतर्गत विकास खण्डवार/निकायवार लक्ष्य किया गया निर्धारित
  • लक्ष्य पूर्ति हेतु समस्त बीडीओ व अधिशासी अधिकारी को दिए गए निर्देश

कुशीनगर। मुख्य विकास अधिकारी अनुज मलिक ने बताया कि दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग द्वारा संचालित दिव्यांगजन शादी-विवाह प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत दम्पति में युवक के दिव्यांग होने की दशा में रू0 15,000/- व युवती के दिव्यांग होने की दशा में रू0 20,000/- तथा युवक-युवती दोनों के दिव्यांग होने की दशा में रू0 35,000/- धनराशि पुरस्कार स्वरूप प्रदान की जाएगी। मुख्य विकास अधिकारी ने पात्रता के संबंध में बताया कि शादी के समय युवक की आयु 21 वर्ष से कम तथा 45 वर्ष से अधिक न हो। युवती की उम्र 18 वर्ष से कम एवं 45 वर्ष से अधिक न हो। दम्पत्ति में कोई आयकर दाता न हो। मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा प्रदत्त प्रमाण पत्र के अनुसार दिव्यांगता 40 प्रतिशत या उससे अधिक होनी चाहिए। ऐसे दिव्यांग दम्पत्ति पात्र होंगे जिनका विवाह गत वित्तीय वर्ष एवं वर्तमान वित्तीय वर्ष में हुआ हो।

उन्होंने बताया कि दिव्यांग शादी विवाह प्रोत्साहन पुरस्कार योजना के अन्तर्गत इच्छुक दिव्यांग दम्पत्ति गत वित्तीय वर्ष अर्थात 01 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 के मध्य सम्पन्न हुई हो, के आवेदन पत्र विभागीय पोर्टल www.divyangjan.upsdc.gov.in पर ऑनलाइन कराया जाना है।मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि शादी विवाह पुरस्कार योजना हेतु वित्तीय वर्ष 2022-23 हेतु विकास खण्डों/नगर निकायों हेतु भौतिक लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिसके अंतर्गत जनपद के समस्त (14) विकास खण्डों एवं नगरपालिका परिषद पड़रौना, कुशीनगर एवं हाटा के लिए दो-दो का लक्ष्य रखा गया है, एवं नगर पंचायत सेवरही, कप्तानगंज, रामकोला व खडडा हेतु एक-एक का लक्ष्य ( जनपद में कुल 38 ) निर्धारित किया गया है।

उन्होंने समस्त खण्ड विकास अधिकारियों/अधिशासी अधिकारियों को विकास खण्डवार,/ नगर निकायवार लक्ष्य निर्धारित करते हुए निर्देशित किया है कि योजना का सर्वेक्षण कराते हुए आवश्यक प्र पत्र तथा दिव्यांगता प्रदर्शित करने वाला संयुक्त नवीनतम फोटो, विवाह पंजीकरण प्रमाण पत्र, आय व जाति प्रमाण पत्र, युवक एवं युवती का आयु का प्रमाण पत्र (जिसमें जन्म तिथि का अंकन हो), सक्षम अधिकारी से निर्गत दिव्यागता प्रमाण-पत्र, राष्ट्रीयकृत बैंक में संचालित संयुक्त खाता, अधिवास का प्रमाण पत्र एवं युवक एवं युवती की आधार कार्ड की छायाप्रति आदि अभिलेखों के साथ आवेदन पत्र उपर्युक्त पोर्टल पर ऑनलाइन कराते हुए प्रिंट एवं वांछित प्रपत्रों की हार्डकापी जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी कुशीनगर को 31 मई 2022 तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।