कसया/कुशीनगर। तहसील क्षेत्र कसया अंतर्गत रहसू बाजार स्थित शिव मंदिर परिसर में शनिवार को फसलों की सिचाई को लेकर नहरो में पानी छोड़े जाने के साथ ही इसकी साफ- सफाई सहित विभिन्न मांगों को लेकर भारतीय राष्ट्रीय किसान सभा के बैनर तले क्रमिक अनशन शुरू किया गया।

राष्ट्रीय किसान सभा के प्रदेश मंत्री शियशरण पाण्डेय उर्फ सप्पू ने कहा कि जब तक मधुरिया रजवाहा में हेड से लेकर टेल तक पानी नही पहुचेगा तब तक आंदोलन जारी रहेगा। भाजपा सरकार किसानों के साथ छल कर रही। सरकार कहती हैं कि हम किसानों की आय दुगुनी करगे,लेकिन विफल है। वर्षों से मधुरिया रजवाहा की साफ सफाई नही हुई हैं और नही पानी आया हैं। छोटे मध्यम वर्ग के किसान पम्पिंग सेट से पानी चलाकर का धान की रोपाई कर रहे हैं। जिसके पास अपने संसाधन नही हैं वे किसान खेत मे पानी चलाने की कीमत  200 रूपये घंटे से लेकर 250 रुपये तक दे रहे हैं। भीषड़ गर्मी में किसानों की फसल सुख रही हैं और सिचाईं के लिये नहरो में पानी नही हैं। नहरे कचड़े से भरी पड़ी हुई हैं।रहसू बाजार में  नहरों की पटरियों पर अबैध कब्जा हुआ है।

शियाशरण पाण्डेय कहा कि जब तक हेड से टेक तक पानी नही आयेगा  तब तक आंदोलन जारी रहेगा। इस दौरान   बृजबिहारी पाण्डेय,सुखराज प्रसाद,कमाल पाण्डेय,रविन्द्र पाण्डेय,अरविंद सिंह,वीरेंद्र सिंह,धनेश वर्मा,अशोक सिंह,रमेश राय,रामप्रवेश यादव,राघवेंद्र राव,शेषनाथ सिंह,बाबूलाल गुप्ता, योगेंद्र गोंड़ सहित भारी संख्या में किसान मौजूद रहे। सिचाईं विभाग के जेई अमरेंद्र बरनवाल का कहना है जो लोग रहसू बाजार में नहरो की पटरियो पर अवैध  रूप से कब्जा जमाकर दुकान लगाये हैं उनको चिन्हित कर लिया गया हैं। उनके उपर कानूनी कार्रवाई की जायेगी। नहर की सफाई का काम शुरू हो गया हैं। चार से पांच दिन के पानी आ जायेगा।