अचानक लगी आग

कप्तानगंज/कुशीनगर: स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम सभा मठिया में बीती रात एक झोपड़ी में अचानक आग लग जाने के कारण 03 भैस जलने लगी,और पशुओं को बचाने के चक्कर में 3 लोग बुरी तरह जलकर घायल हो गए जिनका इलाज एक नीजी अस्पताल गोरखपुर में चल रहा है।
जानकारी के अनुसार थाना कप्तानगंज के ग्राम पंचायत मठिया के कटइया टोला निवासी मुराली निषाद पुत्र हरि निषाद उम्र 50 वर्ष अपने घर के पिछे झोपड़ी डालकर पशु पालन पोषण करते थे। बीती रात लगभग 11 बजे रात को अचानक झोपड़ी में आग लग गयी शोर होने पर मुराली ने अपने परिजनों को जगाया और स्वयं जलते झोपड़ी में घुस कर भैंसों को बचाने के लिए खोलने लगा। सहयोग में उसकी पत्नी लीलावती देवी उम्र 45 वर्ष व पुत्री पूजा उम्र 17वर्ष भी जलती झोपड़ी में घुस गई। सभी ने भैंसों को तो बचा तो लिया लेकिन स्वयं बुरी तरह जल गयी। ग्रामीणों ने आग बुझा कर घायल भैंसों को दूर बाँधकर सभी घायलों को निजी साधन से गोरखपुर एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करा दिया। आज सुबह सोमवार को मोहल्ले के युवाओं ने मुराली व उसके परिजनों के इलाज के लिए ग्रामीणों से चंदा वसूल कर उनके ईलाज के लिए पैसा एकत्रित कर दवा में सहयोग की। आग लगने की सूचना मिलने पर गाँव पहुँचे एसडीएम देश दीपक सिंह व प्रभारी निरीक्षक कप्तानगंज कपिलदेव चौधरी सहित हियुवा के राजेश साहनी द्वारा गाँव पहुँच कर घटना का जायजा लिया।
इस वावत प्रभारी निरीक्षक कपिल देव चौधरी ने बताया कि घटना की सूचना मिली है मौके पर गया और कानूनी कार्यवाही की जा रही है।

Farendra Pandey

तहसील प्रभारी कप्तानगंज, कुशीनगर उत्तर प्रदेश