न्यूजीलैंड टीम ICC वर्ल्ड टेस्ट चैंपियन बन गई है। उसने साउथैम्पटन में खेले गए फाइनल में टीम इंडिया को 8 विकेट से शिकस्त दी। 91 साल के इतिहास में न्यूजीलैंड टीम ने पहली बार कोई ICC वर्ल्ड कप जीता है। कीवी टीम ने 10 जनवरी 1930 को अपना पहला मैच इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। तब से कोई वर्ल्ड कप नहीं जीत सकी थी। वहीं, ICC ने पहली बार वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप यानि टेस्ट का वर्ल्ड कप टूर्नामेंट शुरू किया।

साथ ही न्यूजीलैंड ने दूसरी बार किसी ICC टूर्नामेंट के फाइनल में भारतीय टीम को शिकस्त दी है। इससे पहले 2000 के चैंपियंस ट्रॉफी (वनडे फॉर्मेट) के फाइनल में 4 विकेट से हराया था।

टीम इंडिया ने दिया था 139 रन का टारगेट

बारिश के कारण करीब ढाई दिन का खेल धुलने के बाद रिजर्व डे में मैच का रिजल्ट निकला। मैच में टॉस हारकर भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 217 रन बनाए थे। जवाब में न्यूजीलैंड ने 249 रन बनाए। इसके बाद दूसरी पारी में टीम इंडिया 170 रन पर ऑलआउट हो गई और 139 रन का टारगेट सेट किया। न्यूजीलैंड ने 2 विकेट गंवाकर 140 बनाते हुए मैच अपने नाम कर लिया।

भारतीय खिलाड़ियों ने किया निराश

भारतीय खिलाड़ियों ने जहां इस मैच की पहली पारी में शानदार प्रदर्शन किया वहीं दूसरी पारी में सभी पूरी तरह फ्लॉप रहे. बल्लेबाजी में भारत सिर्फ 170 रन पर सिमट गया. चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा जैसे बड़े-बड़े खिलाड़ी नहीं चल पाए. वहीं गेंदबाजी की बात करें तो अश्विन को छोड़कर एक भी गेंदबाज उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सका. शमी, बुमराह, ईशांत और जडेजा जैसे गेंदबाज भारत को इस मैच में सफलता नहीं दिला पाए.

विजेता को इनाम

चैंपियन बनने वाली टीम को 16 लाख डॉलर (करीब 11.71 करोड़ रुपए) की इनामी राशि मिलेगी। वहीं, फाइनल में हारने वाली टीम को 8 लाख डॉलर (करीब 5.85 करोड़ रुपए) दिए जाएंगे। चैंपियन टीम को इनामी राशि के साथ-साथ टेस्ट चैंपियनशिप गदा भी मिलेगी। अगर मैच ड्रॉ रहता है या बारिश के कारण खेल संभव नहीं हो पाता है तो दोनों संयुक्त विजेता टीमों को 12-12 लाख डॉलर (8.78-8.78 करोड़ रुपए) दिए जाएंगे।