उपेंद्र कुशवाहा/न्यूज अड्डा

पडरौना/कुशीनगर। क्षेत्र के सिधुआं मिश्रौली ग्राम सभा दिलुहिया में शनिवार को पति पत्नी के बीच हुए झगड़े के बीच पति के मारने से घायल हुई पत्नी की इलाज के दौरान जिला अस्पताल में मौत हो गई। सूचना पर पहुंची मुकामी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार कोतवाली पडरौना थाना क्षेत्र के सिधुआं मिश्रौली ग्राम सभा दिलुहिया निवासी पवन विश्वकर्मा की शादी कोतवाली पडरौना क्षेत्र के ही सुखपुरा गांव के टोला बंगाली पट्टी 22 वर्षीय शशिकला विश्वकर्मा से शादी हुई थी। इसके बाद पति पत्नी के बीच सब कुछ सही चल रहा था कि,शनिवार को किसी बात को लेकर हुई तू तू मैं और नोकझोंक के बीच पति-पत्नी में विवाद हो गया। आरोप है कि पवन विश्वकर्मा अपने ही पत्नी शशिकला विश्वकर्मा को मारपीट कर घायल कर दिया।

बताया जाता है कि बेहोश की हालत में पड़ी शशीकला विश्वकर्मा को उसका पति पवन विश्वकर्मा ने गला दबाकर हत्या करने प्यास किया। इस दौरान मायके वालों को मारपीट होने की सूचना किसी ने दे दी थी। मायके वालों का आरोप है कि शशि कला विश्वकर्मा को पवन विश्वकर्मा ने जानबूझकर गला दबाकर मार दिया है। जिससे उसकी जिला अस्पताल पर इलाज कराने के लिए ले गए थे,जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उधर कोतवाली पडरौना की पुलिस ने मृतका 22 वर्षीय शशिकला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक शशि कला विश्वकर्मा के 11 महीने के मासूम लड़का भी था। बताया जाता है कि मृतका के पेट में 4 महीने का भी बच्चा पल रहा था। घटना से जहां मृतिका शशिकला ने 11 महीने मासूम के सिर से मां का ममता का साया उठ गया है,वहीं भविष्य में आने वाले नन्हे मासूम जो 4 महीने से उसके पेट में पल रहा था,वह भी इस दुनिया से चला गया है।